We Deal In

  • पाँच मुखी रुद्राक्ष के महत्त्व, लाभ और धारण मन्त्र

    पंचमुखी रुद्राक्ष सबसे ज्यादा मिलने वाला रुद्राक्ष है, पंचमुखी रुद्राक्ष में भगवान शिव की सभी शक्तियां समाहित होती है। इस धरा के पंच तत्व और पांच पांडव इस रुद्राक्ष के देव माने गए हैं। इस रुद्राक्ष को धारण करने से वर्जित कार्यो द्वारा उत्प्पन्न पापो से मुक्ति दिलाता है। (more…)

  • छह मुखी रुद्राक्ष के महत्त्व, लाभ और धारण मन्त्र

    एक छह मुखी रूद्राक्ष की सतह पर छह ऊर्ध्वाधर रेखाएं (मुख) होती हैं इस रूद्राक्ष का प्रतिनिधित्व करने वाला देवता भगवान कार्तिकेय है जो भगवान शिव के दूसरे पुत्र और दिव्य सेना के कमांडर हैं। इसलिए इस इस रुद्राक्ष के धारक को भगवान कार्तिकेय के आशीर्वाद से साहस और ज्ञान उपहार में ही मिल जाता है। (more…)

  • Image अभिमंत्रित कड़े

    जय महाकाल मित्रो,

    जैसा कि आप सब को विदित है कि १८ मॉर्च से चैत्र नवरात्रि का शुभारंभ हो रहा है, इस उपलक्ष्य में हमारे गुरु द्वारा विशेष रूप से अभिमंत्रित कड़े तैयार किये जाते है, इन कड़ो के द्वारा, भूत – प्रेत, टोना- टोटक, तंत्र क्रिया इत्यादि से सुरक्षा प्रदान होती है।

    (more…)

  • गोमती चक्र के फायदे

    ॐ जय महाकाल ॐ

    गोमती चक्र का नाम हम सबने सुना है। तंत्र शास्त्र से लेकर वास्तु शास्त्र तक सभी ने इसके विशेष फायदे बताए हैं। आइए जानते हैं, गोमती चक्र के चमत्कारी टोटके जो आपके जीवन की दिशा बदल देंगे।

    (more…)

  • किसे और कब पहनना चाहिए मूंगा?

    ज्योतिष विद्या के अनुसार हर ग्रह को एक विशेष रत्न प्रदर्शित करता है. अपनी राशि के अनुसार पहनने से कुंडली में अशुभ ग्रहों के प्रभाव में कमी आ जाती है. यदि किसी की कुंडली में शनि देव का प्रकोप है और किसी भी प्रकार से कोई काम नहीं बन पा रहा है तो कुंडली की सभी दिशाओं को देखने के बाद नीलम रत्न पहनना आपके लिए शुभ हो सकता है.

    (more…)

error: Content is protected !!