हनुमान जयंती पर विशेष।

इस बार दो शुभ नक्षत्रों के संयोग से हनुमान जन्मोत्सव का पर्व मनाया जायेगा। हनुमान जयंती 19 अप्रैल, 2019 पर गजकेसरी और चित्रा नक्षत्र का योग बन रहा है। कहते हैं कि इस दिन बजरंग बली को चोला चढ़ाने से हर बिगड़ा काम बन जाता है और हनुमान जी की विशेष कृपा होती है।


श्री हनुमान को सिंदूर अतयंत प्रिय है। उनकी पूजा से पहले आप उन्‍हें सिंदूरी का लेप लगा सकते हैं। इससे जीवन में सकारात्‍मकता आती है। हनुमान जी को सिंदूर का चोला चढ़ाने से एवं मूर्ति का स्पर्श करने से सकारात्मक ऊर्जा मिलती है।

हनुमान जयंती के दिन हनुमान जी के मंदिर में हनुमान चालीसा का 11 बार पाठ करें। फिर तेल का दीपक जलाएं और उसमें लौंग डालें। आपके सभी कष्ट दूर हो जाएंगे।

आपका बुरा समय चल रहा है तो हनुमानजी की मूर्ति में गुलाब की माला चढ़ाएं। इसके बाद एक नारियल पर स्वस्तिक बनाएं। नारियल को हनुमान जी को चढ़ा दें।

धन के लिए पीपल के 11 पत्तों पर श्रीराम का नाम लिखकर हनुमान जी को चढ़ा दें।

हनुमान जयंती में हनुमान जी की पूजा में शुद्धता का बड़ा महत्‍व है। इसलिए हनुमान जयंती पर उनकी पूजा करते समय अपना तन मन पूरी तरह स्‍वच्‍छ कर लें। कहने का मतलब है कि इस दिन ना तो मांस खाएं और ना ही मदिरा का सेवन करें। साथ ही पूजा के दौरान मन में कोई गलत भावना ना रखें।

Like us on facebook:

हमें अपनी राय से अवगत कराये ताकि हम आपको आपके हिसाब से आर्टिकल्स दे सके। जय महाकाल।।